ये है 22 साल की IAS टॉपर टीना की सफलता का ‘मंत्र’


यूपीएससी ने सिविल सेवा के लिए होने वाले देश की सबसे प्रतिष्ठित परीक्षा के नतीजे मंगलवार को अनाउंस कर दिए। इस बार भी एक लड़की ने ही बाजी मारी है।

  • महज 22 साल की टीना ने पहले ही प्रयास में यह कामयाबी पाई।
  • वह 12वीं में सीबीएसई टॉपर रही हैं। ग्रैजुएशन में लेडी श्रीराम कॉलेज में भी टाॅप किया था।
  • टीना के पिता जसवंत डाबी बीएसएनएल में अफसर हैं और दिल्ली में पोस्टेड हैं।
  • टीना का परिवार मूलत: जयपुर का है, लेकिन टीना का जन्म भोपाल में हुआ।
  • भोपाल, में टीना का ननिहाल है। वे पहले ही प्रयास में अव्वल आने वाली सबसे कम उम्र की लड़की हैं।

Capture

टॉपर ने रिजल्ट के बाद क्या कहा ?

  • टीना ने कहा, यह सपने जैसा है। सब कुछ मेरी मां की वजह से हुआ। वही मेरी प्रेरणा भी हैं। और उन्हीं को फॉलो भी किया है।
  • मेरी मां इंजीनियर हैं। उन्होंने इंडियन इंजिनियिरिंग सर्विस में कामयाबी हासिल की थी।
  • टेलिकॉम डिपार्टमेंट में लंबी नौकरी के बाद सिर्फ इसलिए वीआरएस ले लिया ताकि मुझे पढ़ा सकें।
  • उन्होंने बताया 20 साल की उम्र में मैंने ग्रैजुएशन कर लिया। इसके बाद एक साल तैयारी के लिए मिल गया।
  • इंटरव्यू 40 मिनट चला था। मैंने सभी सवालों के जवाब दिए थे। बाहर निकली तो अच्छा लगा था। भरोसा था पास तो कर जाऊंगी।
  • पर टॉप…! कौन सोच पाता है। मैंने हरियाणा कैडर चुना है, क्योंकि यह राज्य मुझे ज्यादा चैलेंजिंग लगता है। टीना ने कहा, अब उन्हें ट्रेनिंग का इंतजार है।

हरियाणा में करना चाहती हैं काम

 लोक सेवा परीक्षा में सर्वोच्च स्थान हासिल करने वाली टीना डाबी ने आज कहा कि वह हरियाणा में लिंगानुपात को बेहतर बनाने और महिला सशक्तीकरण के लिए काम करना चाहती हैं। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा से चुनौतीपूर्ण राज्य में काम करना चाहती थी। इसलिए मैंने हरियाणा को चुना। हम जानते हैं कि वहां लड़के और लड़कियों का अनुपात काफी कम है, इसलिए मैं वहां महिला सशक्तीकरण के लिए अपना योगदान देना चाहती हूं।

शैक्षिक योग्यता

  • राजनीति विज्ञान में स्नातक
  • वह 12वीं में सीबीएसई टॉपर रही हैं। ग्रैजुएशन में लेडी श्रीराम कॉलेज में भी टाॅप किया था।

अध्ययन का  समय और तरीका

  • टीना रोजाना 8 से 10 घंटे पढ़ा करती थी |
  • वो अपनी सफलता का श्रेय रणनीति और योजना को देती है |
  • वो schedule बनाती जिसका साप्ताहिक लक्ष्य हुआ करता था |

UPSC के लिए कोचिंग

  • टीना ने Delhi से  एक साल कि कोचिंग ली और अपनी आयु को 21 साल तक कि होने का इन्तेजार किया |

धैर्य को बनाया सफलता कि कुंजी

  • उन्होंने कहा कि यह बहुत ही कठिन परीक्षा होती है और कई बार आप खुद को अकेला पाते है |
  • इसलिए धैर्य बनाये रखे , ये आपको सफलता कि ओर ले जायेगा |

 

Related Post

Share this

One comment

  1. that movement really worthiness, through word can’t able to express….bcoz there is no any word to expressing this.congrats for more than starring success of hard work and faith on self.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *